दुनिया में स्थित किसी अजूबे से कम नहीं, चीन में बना शीशे का पुल

टूरिज्म डेस्क। पूरी तरह शीशे से बना शीशे का पुल चीन में लोगों के लिए खोल दिया गया है. यह पुल चीन का सबसे लंबा पुल होने के साथ, सबसे ऊंचा शीशे का पुल है. इस पुल को पूरी तरह कांच से बनाया गया है. चीन के हुनान प्रांत में बना ये शीशे का पुल चांगचियाचिए के बीच दो पहाड़ों को जोड़ता है. इन पहाड़ों को लोग ‘अवतार’ पर्वत कहते हैं. क्योंकि हॉलीवुड की फिल्म ‘अवतार’ की शूटिंग यहीं पर हुई थी.

चीन के समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक इस शीशे के पुल की ऊंचाई 300 मीटर है, वहीं 430 मीटर लंबे इस पुल को बनाने में 34 लाख डॉलर का खर्च आया है. इस शीशे के पुल को 99 चौकोर पैनलों से बनाया गया है. वहीं इस पुल की फ़र्श तीन परत वाली पारदर्शी शीशे से बनी है. इस पुल को लेकर लोगों में इतनी दीवानगी देखी जा रही है, की इस पुल के खुलने के बाद से, इस शीशे के पुल पर लोग सामूहिक योग और शादी तक का आयोजन कर रहे हैं. लेकिन पूरी तरह शीशे से बने इस पुल पर लोग चलने से भी ड़रते हैं.

पूरी तरह पारदर्शी शीशे से निर्मित लोग, जब इस पुल पर चलते हैं तो वो नीचे का पूरा नजारा अलग ही दिखाई देता है. अगर कोई भी इंसान दुनिया के बेहतरीन नजारों को देखना चाहता है, तो उसे चीन में बने इस शीशे के पुल को जरूर देखना चाहिए. जहां जाकर इंसान, दो पहाड़ों के बीच बने इस कांच के पुल पर चलकर आसमान और खाई दोनों के नजारों को देख सकता है. वहीं अपने साथ वहां के बेहतरीन नजारों को अपने जहन मे कैद कर सकता है.

इस पुल पर एक साथ 800 लोग घूम सकते हैं. इस पुल का डिज़ाइन, आर्किटेक्चर में कई रिकॉर्ड बना चुके इजरायल के हैम डोटान ने तैयार किया है. वहीं शीशे से बना ये पुल आज देश विदेश के पर्यटकों के लिए घूमने की बेहतरीन जगह बना हुआ है. जहां हर साल लाखों सैलानी आ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *